From Album: Marasim (1999)

एक पुराना मौसम लौटा
एक पुराना मौसम लौटा
याद भरी पुरवाई भी

एक पुराना मौसम लौटा
याद भरी पुरवाई भी
ऐसा तो कम ही होता है
वो भी हो तनहाई भी

एक पुराना मौसम लौटा
याद भरी पुरवाई भी

यादों की बौछारों से जब पलकें भीगने लगती हैं
यादों की बौछारों से जब पलकें भीगने लगती हैं
कितनी सौंधी लगती है तब माज़ी की रुसवाई भी
एक पुराना मौसम लौटा
याद भरी पुरवाई भी

दो-दो शक़्लें दिखती हैं इस बहके से आईने में
दो-दो शक़्लें दिखती हैं इस बहके से आईने में
मेरे साथ चला आया है आप का इक सौदाई भी
ऐसा तो कम ही होता है
वो भी हो तनहाई भी

ख़ामोशी का हासिल भी इक लम्बी सी ख़ामोशी है
ख़ामोशी का हासिल भी इक लम्बी सी ख़ामोशी है
उनकी बात सुनी भी हमने अपनी बात सुनाई भी
ऐसा तो कम ही होता है
वो भी हो तनहाई भी

एक पुराना मौसम लौटा
एक पुराना मौसम लौटा
याद भरी पुरवाई भी

Ek Puraana… Mausam Lauta…
Ek puraana… Mausam Lauta…
Yaad Bhari Purvaaie Bhi…

Ek Puraana Mausam Lauta…
Yaad Bhari Purvaaie Bhi…

Eisa To Kam Hi Hota Hai…
Von Bhi Hon Tanhaaie Bhi

Ek Puraana Mausam Lauta…
Yaad Bhari Purvaaie Bhi…

Yadon Ki Bochaaron Se Jab Palkain Bheegne Lagti Hai…
Yadon Ki Bochaaron Se Jab Palkain Bheegne Lagti Hai…
Kitni Saundhee Lagti Hai Tab.., Kitni Saundhee Lagti Hai Tab..,
Mazi Ki Rusvaaie Bhi…

Ek Puraana Mausam Lauta…
Yaad Bhari Purvaaie Bhi…

Do-Do Shaklen Dikhti Hain Is Bhken Se Aaene Main
Do-Do Shaklen Dikhti Hain Is Bhken Se Aaene Main
Mere Saath Chlaa Aaya Hai… Mere Saath Chlaa Aaya Hai…
Aapka Ek Saudaai Bhi…

Eisa To Kam Hi Hota Hai…
Von Bhi Hon Tanhaaie Bhi

Khamooshi Ka Haasil Bhi Ek Lambee Si Kahmoshi Hai
Khamooshi Ka Haasil Bhi Ek Lambee Si Kahmoshi Hai
Unki baat suni bhi hamne… Unki baat suni bhi hamne
Apnni baat sunaai bhi

Eisa To Kam Hi Hota Hai…
Von Bhi Hon Tanhaaie Bhi

error: Content is protected !!